डिप्स उग्गी में विंटर कार्निवाल अयोजित

कार्निवाल एक प्राचीन पारम्परा- चेयरपर्सन जसविंदर कौर
जालंधर 20 दिसंबर (जसविंदर सिंह आजाद)- कार्निवाल एक प्राचीन पारम्परा है जो खुशियों के मौसमी चक्र से जुड़ा है। खुशियां किसी एक समाज तथा सड्टयता से नहीं बल्कि सारे समाज की होती है। उसी खुशी को बांटने से खुशी और बढ़ जाती है। यह शब्द मुख्य अतिथि के रूप में उपस्थित डिप्स चेन की चेयरपर्सन जसविंदर कौर ने डिप्स स्कूल उग्गी में अयोजित विंटर कार्निवाल दौरान कहे। उन्होंने कहा कि विद्यार्थियों को प्रड्टाु यीशु मसीह के जीवन से अवगत करवाने तथा क्रिसमिस के त्यौहार की महत्वता को समझाने के उदेश्य को मुख्य रखते हुए की इस कार्यक्रम का आयोजन किया गया। जिसमें विशेष अतिथि के रूप में चेन की चीफ एडवाइज़र जसमीत कौर उपस्थित हुए। कार्निवाल की देखरेख स्कूल की प्रिंसीपल विनीता चड्डा ने की। इस कार्निवाल में विद्यार्थियों ने प्रड्टाु यीशु मसीह के जीवन पर आधारित एक नाटक का मंचन किया जिसमें प्रड्टाु यीशु मसीह के जीवन तथा उनके जीवन पर प्रकाश डाला गया। इसी के ताथ सांता क्लास की क्रिससिं के पर्व की अहमीयत को बताया गया। इस दौरान सांता का रूप धारण किए विद्यार्थी ने अन्य विद्यार्थियों को विडि्टान्न प्रकार की स्वीट्स बांटी। इस दौरान विद्यार्थियों के लिए विडि्टान्न खेल स्टाल जैसे लक्की डिप, तम्बोला, गन शूटिंग अमेरिकन हुपला, टरैपोलिन, लूडो, आईस, वाईक चैलेंज आदि का आयोजिन किया गया। जिसमें विद्यार्थियों ने खेल कर ड्टारपूर आनंद लिया। कार्निवाल में मुख्य आकर्षण का केन्द्र सैल्फ ी कार्नर तथा मैजिक शो रहा। टाईनी टाट्स के लिए जमपिंग जैक्स का विशेष तौर पर आयोजन किया गया। ज्वैलरी कार्नर ने सड्टाी को अपनी ओर आकर्षित किया वहीं डी.जे पर बजे संगीत ने सड्टाी को मंत्र मुग्ध करते हुए कार्निवाल को एक नएं जोश से ड्टार दिया। इस अवसर पर मुख्य अतिथि जसविंदर कौर तथा विशेष अतिथि जसमीत कौर ने सड्टाी स्टालों की शिरकत की तथा विद्यार्थियों द्वारा प्रस्तुत कार्यक्रम की प्रशंसा की। उन्होंने कहा कि इस प्रकार के कार्यक्रम से विद्यार्थियों को अन्य धर्म तथा सड्टयता को समझने का अवसर प्राप्त होता हैं। इस दौरान स्कूल का सारा स्टाफ ड्टाी उपस्थित था।

Leave a Reply