डिप्स यू.ई में एक दिवसीय वर्कशाप आयोजित

रोचक गतिविधियों से कैसे जगाए जिज्ञासा
जालंधर 7 जनवरी (जसविंदर सिंह आजाद)- नन्हें मुन्नों को वर्ष ड्टार सिखाए कार्य को नए तरीकों से रिवाईज़ तथा कुछ नया सीखने की चाह को पैदा करने के उदेश्य को मुख्य रख्ते हुए डिप्स अर्बन एस्टेट में रोचक गतिविधियों से कैसे जगाए जिज्ञासा विषय पर आधारित एक दिवसीय वर्कशाप का आयोजन किया गया। जिसमें मुख्य वक्ता के रूप में डिप्स एजुकेशनल रिसर्च एंड डिवैल्पमैंट बोर्ड प्री-विंग एडवाईज़र मोनिका मेहता उपस्थित हुई। इस वर्कशाप में विडि्टान्न डिप्स संस्थानों के प्री विंग अध्यापको ने ड्टााग लिया तथा शिक्षा में रोचकता लाने के नये तरीकों को सीखा। इस दौरान मोनिका मेहता ने अध्यापकों को बताया कि टाईनी टाट्स को सारा वर्ष करवाए कार्य के किस प्रकार नएं तरीकों से रिवाइज़ करवाना है तथा कुछ सीखाने के लिए हमें ड्टाी उन जैसा बनने की अवश्यकता होती है। इसी के साथ उन्होंने अध्यपाकों को विडि्टान्न रोचक गतिविधियों , ट्रयर्र हंट, बूझों तो जाने पहेलियां,विस्पर इन माई इयर, देखे व पहचाने, अक्षर व नम्बर ज्ञान पहचान, आदि के माध्यम से विडि्टान्न प्रकार की जानकारी मुहैया करवाई। उन्होंने कहा कि विद्यार्थियों के मानसिक विकास पर ड्टाी अध्यापकों को विशेष रूप से ध्यान देना चाहिए। उन्हें खेल के मैदान में विडि्टान्न प्रकार के खिलाने चाहिए। जैसे कि मैदान में सांप सीड़ी को ड्रा करके बच्चों को खेलने के लिए कहा जाए। इस प्रकार के खेल उनमें एक नया उत्साह पैदा करते है। बच्चों को कक्षा में यदि गीतों के माध्य से रिदम तथा राईम को ध्यान में रखते हुए पढ़ाया जाए तो वह पाठ उनके लिए अविस्मरणीय होगा। इस दौरान उन्होंने अध्यापकों को विद्यार्थियों में आत्मविश्वास, लीडरशिप के गुण पैदा करने के लिए प्रेरित किया। इस दौरान मुख्य वक्ता तथा अध्यापकों के मध्य एक डैमो सैशन ड्टाी रखा गया जिसमें आज सिखाई गई बातों को दोहराने तथा एक्ट करने के लिए कहा गया।

Leave a Reply