प्राईवेट बिजली कंपनियों से दलाली निर्धारित कर कुछ नेतागण लूट रहे हैं पंजाब के खजाने व लोगों को -मीत हेयर

private bijli companies‘आप’ विधायक मीत हेयर व हलका अध्यक्ष नवदीप संघा के नेतृत्व में ‘आप’ ने दिया डीसी द्वारा सरकार को ज्ञापन
मोगा, 25 जून (जसविंदर सिंह आजाद)- आम आदमी पार्टी (आप) पंजाब के विधायक और यूथ विंग के इंचार्ज मीत हेयर ने कहा कि सरकारें चला रहे कुछ नेताओं की ओर से प्राईवेट बिजली कंपनियों के साथ मोटी दलाली निर्धारित कर पंजाब का खजाना और जनता की जेब लुटी जा रही हैं। मीत हेयर आज यहां महंगी बिजली के विरोध में ‘आप’ द्वारा चलाए जा रहे बिजली अन्दोलन के पहले चरण के तहत पार्टी नेताओं और वर्करों को सुिक्रय करने पहुंचे थे। बैठक को संबोधन करते हुए मीत हेयर ने पंजाब में हद से ज्यादा बिजली दरों के कारण बताए और पिछली अकाली-भाजपा सरकार के साथ-साथ मौजूदा कैप्टन सरकार को भी जमकर कोसा। इस उपरांत मीत हेयर, जिला प्रधान नसीब बावा और हलका प्रधान और राज्य प्रवक्ता नवदीप सिंह संघा के नेतृत्व में डिप्टी कमिशनर मोगा के द्वारा महंगी बिजली के विरोध में पंजाब सरकार को मांग पत्र सौंपा।
मीत हेयर ने आरोप लगाए कि सस्ती बिजली पैदा कर रहे सरकारी थर्मल प्लांटों को बंद कर प्राईवेट बिजली कंपनियों के साथ जो मोटे ‘कमीशन’ वाले महंगे बिजली खरीद समझौते (पीपीएज) किए गए थे, अब वह ‘दलाली’ सत्ताधारी कांग्रेसी खास कर कैप्टन अमरिन्दर सिंह खाने लगे हैं, वर्ना मुख्य मंत्री बनते ही कैप्टन अमरिन्दर सिंह प्राईवेट थर्मल प्लांटों के साथ किए घातक समझौते तुरंत रद्द कर देते, क्योंकि यह कांग्रेस का पंजाब के लोगों के साथ किया लिखित चुनावी वायदी था।
नसीब बावा ने बताया कि इन महंगे बिजली समझौतों के कारण ही आज पंजाब में सबसे ज्यादा महंगी बिजली बेच रहे राज्यों में शामिल है। जिसका क्षतिपूर्ति हर गरीब-अमीर बिजली खप्तकार को भुगतना पड़ रहा है, परंतु कैप्टन सरकार समझौते रद्द करने से भाग गई है।
इस अवसर पर नवदीप संघा ने बताया कि आम आदमी पार्टी इस बिजली आंदोलन के द्वारा बादलों और कैप्टन की तरफ से खाई जा रही ‘दलाली’ का सच घर-घर तक पहुंचाएगी, साथ ही दिल्ली में अरविन्द केजरीवाल सरकार की तरफ से दी जा रही सबसे सस्ती बिजली के बारे में जागरूक करेगी, हालांकि दिल्ली सरकार खुद एक भी यूनिट पैदा नहीं करती और प्राईवेट कंपनियों से ही बिजली खरीदती है। इस मौके यूथ विंग के राज्य संयुक्त सचिव अमित पुरी, मैडम सोनीया ढल्ल, पूनम नारंग, मैडम सुमन, मैडम ऊषा, कमलजीत कौर, सतपाल भट्टी, हंस राज, जगजीत सिंह, सन्दीप कोछड और अन्य स्थानीय नेता और वर्कर मौजूद थे।

Leave a Reply