कामयाबी

सूरज किसी से पूछता नहीं चढ़ने से पहले और ढलने से पहले,
कामयाबी पाने के लिए उठना चाहिए इसके निकलने से पहले

सुबह की ताज़ी हवा और धुआं रहित वातावरण में सांस लो,
तांबे के लोटे का पानी पी लेना चाहिए सैर पे चलने से पहले

सुबह का पढ़ा हुआ सबक याद रहता है ज़िन्दग़ी भर के लिए,
बदल लेना अपनी आदतों को तुम दिल के मचलने से पहले

बनोगे फूल ऐसे जिसकी महक से ब्रह्माण्ड भी महक उठेगा,
अपने अंदर धैर्य का बीज बोना कमी किसी की खलने से पहले

समय के साथ तो बदलनी ही है दुनिया की हर एक चीज़ यारो,
यशु जान तुम खुद को बदल लेना दुनिया के बदलने से पहले

-यशु जान, संपर्क 9115921994

Leave a Reply